Kaavyansh

  पॉपुलेशन पर रोक
भारत की हालत बिगाड़ी पॉपुलेशन ने
इसे रुकवाने का प्रबन्ध कर दीजिए
ईलू-ईलू, जुम्मा-चुम्मा सरका के खटिया को
गाये जाने वाले गाने मंद कर दीजिए
कामदेव की जो पूरी आरती उतारते हैं
बन्द ऐसे श्रृंगारिक छंद कर दीजिए
बाढ पॉपुलेशन की रोकना जो चाहते हों
रीतिकाल को पढना बंद कर दीजिए
   
 
  वीर रस का प्रभाव
वीर रस में हमारा मन ज्य़ादा रम रहा
आशा है गुरू जी आप मन से पढाएँगे
श्याम नारायण पाण्डेय और दिनकर
की परंपरा में हम नाम को लिखाएँगे
नाम न लिखा पाए तो इतना तो है जरूरी
पढकर वीर रस वीरता दिखाएँगे
यूनियन के चुनाव होंगे जब कॉलिज में
खोपडा विरोधियों का फोड कर आएँगे